सार्वजनिक साधारण बीमा उद्योग विरोधी नीतियों तथा लम्बित मांगों हेतु कर्मचारियों एवं अविश्नरियों द्वारा भोजनावकाश में प्रदर्शन

0
54

रिपोर्ट – शिवम् सविता

कानपुर – आज दिनांक १२ जनवरी २०२१ को साधारण बीमा की सार्वजनिक क्षेत्र की चारों कम्पनियों के अधिकारी व कर्मचारी संगठनों ने संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले केन्द्र सरकार की कर्मचारी विरोधी नीतियों, श्रम कानूनों में अवान्छित परिवर्तन व अन्य महत्वपूर्ण मांगों हेतु भोजनावकाश में नेशनल इश्योरेंस कम्पनी लिमिटेड मण्डल कार्यालय-१ माल रोड कानपुर के समक्ष बड़ी संख्या में एकत्रित होकर केन्द्र सरकार के खिलाफ लम्बित निम्न मांगों हेतु प्रदर्शन व नारेबाजी की।
1- सार्वजनिक क्षेत्र की चारों साधारण भीमा कम्पनियों का एकीकरण कर एक कारपोरेशन बनाया जाय।
2-1 अगस्त 2017 से लम्बित वेतन समझौते पर तुरन्त वार्ता की जाए ।
3- एन०पी०एस० को समाप्त कर 1995 की पेंशन स्कीम लागू की जाय, पेंशन अपडेशन व पारिवारिक पेंशन में सुधार किया जाए।
4- श्रम कानूनों में बदलाव समाप्त किया जाए।
5- तृतीय व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की भर्ती तुरन्त की जाए।
बड़ी संख्या में उपस्थित बीमा कर्मियों को सम्बोधित करते हुये वक्ताओं ने कहा कि साधारण बीमा कम्पनियों के विरूद्ध जो भी नीतियां बनाई जा रही है उससे बीमा उद्योग व कर्मचारियों को तो नुकसान होगा ही व आम जनता व देश को भी नुकसान होगा । सभा को प्रमुख रूप से निम्न वक्ताओं ने सम्बोधित किया कामरेड अजय शंकर, अजय बाकरे, आलोक मेहरोत्रा, अवयेश बाजपेयी, राजेन्द्र कुमार,तेज नारायन, सुबोध भदौरिया, अजय अग्निहोत्री, के०के० पाण्डेय, दुर्गेश चन्द्र, एम०एच०यू० खान, नफीस अहमद, अनुपम मिश्रा,
राजेश गुप्ता, वसीउद्दीन, राज नारायन शर्मा, महेश कुमार गुप्ता मुकेश तिवारी : विनोदीता रबादि।
श्री के गुप्ता आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here